Home Uncategorized हितग्राहीमूलक योजनाओं का लाभ वास्तविक पात्र हितग्राहियों को दिलाना सुशासन का मूल...

हितग्राहीमूलक योजनाओं का लाभ वास्तविक पात्र हितग्राहियों को दिलाना सुशासन का मूल ध्येय: मुख्यमंत्री श्री चौहान

72

15 नवंबर से प्रारंभ “आपकी सरकार-आपके साथ” अभियान 15 जनवरी 2022 तक चलेगा

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि सुशासन का मुख्य ध्येय भारत सरकार एवं शासन के विभिन्न विभागों द्वारा संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों का पूरा लाभ उसके वास्तविक रूप से पात्र हितग्राही तक समय-सीमा में पहुँचाना है। राज्य सरकार जन-कल्याण और सुराज के लिए प्रतिबद्ध है।  इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए 15 नवम्बर 2021 से प्रारंभ “आपकी सरकार-आपके साथ” विशेष अभियान 15 जनवरी, 2022 तक चलेगा। अभियान के जरिये शासन की समस्त हितग्राहीमूलक योजनाओं का लाभ पात्र हितग्राहियों को प्रदान करना सुनिश्चित किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अभियान में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि एक भी पात्र हितग्राही शासकीय योजना के लाभ से वंचित न रह जाए। मुख्यमंत्री श्री चाहान खुद शासन स्तर भी इसकी समीक्षा नियमित रूप से करेंगे।

“आपकी सरकार-आपके साथ” अभियान में हर जिले में ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम पंचायतवार और नगरीय क्षेत्रों में वार्डवार शिविरों का आयोजन कर सभी पात्र हितग्राहियों के आवेदन प्राप्त किये जायेगे। शिविर में ही आवेदनों का तत्काल निराकरण कर  योजनाओं का लाभ देना सुनिश्चित किया जाएगा।

जिले में अभियान का नेतृत्व जिला कलेक्टर द्वारा किया जाएगा। कलेक्टर के निर्देशन में मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के लिए ग्राम पंचायतवार और आयुक्त, नगर निगम, मुख्य नगर पालिका अधिकारी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी, नगर परिषद द्वारा नगरीय क्षेत्र में नगर निगम कमिश्नर, ग्राम पंचायत या वार्ड वार शिविरों के आयोजन का रोस्टर तैयार करेंगे। निर्धारित रोस्टर की एक प्रति सामान्य प्रशासन विभाग को प्रेषित की जाएगी। इस रोस्टर को सी.एम. हेल्पलाइन पर अभियान के लिए विशेष रूप से तैयार किए गए MIS मोड्यूल में भी दर्ज किया जाएगा।

जिले में प्रत्येक शिविर के लिए एक नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जायेगी। शिविर की पूर्व तैयारी करते हुए सभी ग्राम पंचायतों और वार्डों में पात्र हितग्राहियों का चिन्हांकन पूर्व से ही किया जाकर आवेदन भी प्राप्त कर उनका परीक्षण करा लिया जायेगा। पात्र हितग्राहियों के परीक्षण और चिन्हांकन में ऐसे हितग्राही, जो पूर्व में योजना के लाभ से किसी भी कारणवश वंचित रह गए हैं उन्हें, नवीन पात्र हितग्राही, सीएम हेल्पलाईन एवं जन-सुनवाई में हितग्राहीमूलक योजनाओं का लाभ दिलाने संबंधी अथवा हितग्राहीमूलक योजनाओं का लाभ न मिलने संबंधी आवेदन करने वाले हितग्राहियों को शामिल किया जाएगा। प्रत्येक शिविर में प्राप्त सभी आवेदनों का अंतिम निराकरण अनिवार्य रूप से किया जाकर पात्र हितग्राहियों को मौके पर ही हितलाभ प्रदाय किया जाएगा। 

अभियान में सभी स्थानीय जन-प्रतिनिधि शिविर में आमंत्रित किए जाएंगे। पात्र हितग्राहियों को हितलाभ स्थानीय जन-प्रतिनिधियों के माध्यम से शिविर स्थल पर ही – वितरित किया जाएगा। रोस्टर के अनुसार शिविरों की तिथि, समय और स्थान का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाएगा। ऐसे आवेदन, जिनका निराकरण किन्हीं अपरिहार्य कारणों से शिविर के दौरान नहीं हो पाता है, का 10 से 15 दिवस के भीतर उसी स्थान पर पुनः शिविर लगाकर निराकरण करते हुए पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाएगा। शिविर स्थल पर नागरिकों की बैठक व्यवस्था, पेयजल आदि सभी आवश्यक व्यवस्थाएँ सुनिश्चित कर कोविड-19 संक्रमण नियंत्रण के मार्गदर्शी निर्देशों का भी कड़ाई से पालन किया जायेगा।